HomeЛюди и блогиRelated VideosMore From: Herbal Nawab

100 पहलवानों के बराबर ताकत देने वाला तेल / A Powerful Oil

8 ratings | 1166 views
दोस्तों आज हम आपको सांडहा के तेल के बारे में बताएँगे. इस वीडियो में आप जानेंगे की क्या है सांडहा तेल और ये कैसे तैयार किया जाता है? साथ ही आपको इसके इस्तेमाल के बारे में भी बताएँगे. सांडहा एक रेगिस्तानी छिपकली होती है जिसे इंग्लिश में सारा हार्डविकि कहते हैं. यह छिपकली उत्तर भारत और पाकिस्तान के गर्म इलाक़ों में पायी जाती है खासतौर से राजस्थान के रेगिस्तान में. वैसे तो इस छिपकली को साल में कभी भी पकड़ा जा सकता है, लेकिन बरसात के दिनों में इसका शिकार आसानी से किया जा सकता है. सांडहा छिपकली को मारकर इसकी चर्बी निकाल ली जाती है. उसके बाद चर्बी को पिघलाकर तेल बना लिया जाता है. सांडहा तेल को मर्दो के ज़्यादातर गुप्तरोगों के लिए फायदेमंद माना गया है. सांडहे के तेल को खासतौर से नामर्दी के इलाज में यानि लिंग का खड़ा न हो पाना में इस्तेमाल किया जाता है. इस्तेमाल के लिए लगभग आधा चम्मच तेल लेकर लिंग पर हलके हलके हाथ से मालिश की जाती है. इसके अलावा सांडहा तेल लिंग की लम्बाई और मोटाई बढ़ने में भी इस्तेमाल होता है. https://youtu.be/la0pP2XTArE
Html code for embedding videos on your blog
Text Comments (0)

Would you like to comment?

Join YouTube for a free account, or sign in if you are already a member.